रावण…

रावण तो हैं आज भी ज़िंदा... मन में हर इंसानो के... ना तब मिटा था... ना अब मिटेगा... मन से हर इंसानो के... अच्छाईयों की शक्लें तो... हर इंसान बना ही लेता हैं... बुराईयों का चेहरा तो... मन में छुपा कर रखता हैं... कैसे मिटेगा मन का रावण... मन से हर इंसानो के... रावण तो... Continue Reading →

Start a Blog at WordPress.com.

Up ↑