वो नया बसंत बनकर लौट आया हैं…

वो नया बसंत बनकर लौट आया हैं...चलो कोई तो हैं जो कहीं से तो लौटा हैं...बहुत सी अर्जियां करी थी... शायद उस तक ही पहुँच पायी...और वो लौट आया... हमारे पास... उससे पहले कहाँ था... नहीं मालूम... कहीं तो रहेगा ही... उसकी अपनी दुनिया रही होगी... मग़र अब वो हमारी दुनिया का एक हिस्सा बन... Continue Reading →

Mehr…

Rab di mehr kahti hai tenu duniya saari... Aaj pata lagya ki sach hi kahti ye duniya saari... Ab toh ye Dil ek hi duaa karta hai... Sajda bhi tera aur sadka bhi tera hi karta hai... Tere aakhanu yuhi takta rahta hu... jaise saanjh ka chand raat se bekhabar ho aur subah ka suraj... Continue Reading →

Start a Blog at WordPress.com.

Up ↑